{jcomments on}

1. बाज़ीचा-ए-अत्फाल है दुनिया मेरे आगे
होता है शब-ओ-रोज़  तमाशा  मेरे आगे


[ बाज़ीचा = play/sport, अत्फाल = children ]

Listen This

{jcomments on}

ज़ुल्मत कदी में मेरी शब-ए-ग़म का जोश है
इक शम्मा है दलील-ए-सहर, सो ख़ामोश है

शब्दावली:

ज़ुल्मत=अंधेरा; दलील=सबूत; सहर=सुबह

 


दाग़-ए-फ़िराक़-ए-सोहबत-ए-शब की जली हुई
इक शम्मा रह गई है सो वो भी ख़ामोश है

शब्दावली:

फ़िराक़=जुदाई; सोहबत=साथ; शब=रात; शम्मा=दिया

 

आते हैं ग़ैब से ये मज़ामीं ख़याल में
ग़ालिब सरीर-ए-ख़ामा नवा-ए-सरोश है

शब्दावली:

ग़ालिब=छुपा हुआ/रहस्यमय; मज़ामीं=विषय; सरीर=कलम के घिसने की आवाज; ख़ामा=कलम; नवा=आवाज; सरोश=फरिश्ता/देवता

Listen this